Dil Ki Awaaz | Motivation

0
31

लाइफ में एक टाइम आएगा जब तुम बहुत कन्फ्यूज्ड होंगे, कोई बहुत बड़ा desicion लेना हो और तुम्हे समझ में नहीं आ रहा हो, की क्या करे ? जब तुम्हारा कदम आगे बढ़ाना जरुरी होगा पर तुम्हारे आगे सिर्फ….अँधेरा होगा। जब तुम्हे कुछ भी साफ़ दिखाई नहीं दे रहा हो और तुम्हे बहुत ज़्यादा डर लग रहा हो तभी अपनी दोनों आंखें बंद करके, अपना हाथ अपने दिल पे रखना और अपनी धड़कनो को महसूस करते हुए, एक गहरी साँस लेकर बोलना, Guide me. मुझे रास्ता दिखाओ, मुझे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा, मेरी मदद करो, help me out. और जब आप सच्चे दिल से सवाल पूछते हो न, तो आपको जवाब ज़रूर मिलता है।

dil ki awaaz

एक आवाज़ है जो आपको कुछ कहने की कोशिश करती है, जिसको पता है आपके लिए क्या अच्छा है और क्या बुरा, जो आपको हमेशा सही रास्ता दिखाती है, अगर आप उसको सुन पाओ तो। ये वही आवाज़ है जो आपको कुछ भी गलत करने से रोकती है और आपको हमेशा कुछ न कुछ सही करने को बोलती है। कही पे कुछ भी गलत होते देखकर आपको उठाने पर मजबूर करती है।

सिगरेट को जब आपने पहली बार होंठो से लगाया था, तभी इसने आपको रोका था। किसी इंसान की फीलिंग्स के साथ आप जब खेल रहे थे, तभी इसने आपको टोका था। वो आपको समझाती है,वो आपको सही रस्ते पे ले जाती है, दिल की आवाज़ आपके दिल की आवाज़।

अगर आपके दिल से भी आवाज़ आती है न, की “कर दे यार करदे” तो फिर डरो मत, ज़्यादा सोचो मत, अपने ड्रीम्स को लॉजिक और रीज़न के साथ तौलो मत। अपनी सारी एनर्जी जो एक जगह पर accumulate कर दो, इकट्ठा करदो ! और एक्शन्स लो ! बड़े से बड़ा massive action, क्युकी बस ये आपके दिल की आवाज़ नहीं है ! ये पुरे यूनिवर्स की आवाज़ है, जो कुछ आपको कुछ करने के लिए कह रही है, ये पुरे cosmos की आवाज़ है जो आपके दिल से निकल रही है। ये इस पुरे दुनिया के क्रिएटर की, उस आर्टिस्ट की आवाज़ है जिसने ये जहाँ रचा है और ये सिर्फ आवाज़ नहीं है। ये आपके ज़िन्दगी का मकसद है, ये आपके जन्म लेने की वजह है, ये आपकी अल्टीमेट कालिंग है। दिमाग हमेशा लॉजिक से एनालिसिस करेगा जो दुनिया ने सिखाया है उन रूल्स और रेगुलेशन के हिसाब से आपको बोलेगा, की ये इम्पॉसिबल है। पर इस दिल की कोई limitations नहीं है, दिमाग से हज़ार गुना ताकत और समझदारी, दिल में है। “दिमाग बोलेगा – मत कर, दर्द होगा। दिल बोलेगा – जितना दर्द होगा, मैं सहने के लिए तैयार हूँ !”

ये आवाज़ को नॉर्म्स या रूल्स फॉलो नहीं करती, क्युकी उसको पता है, की आपके लिए क्या सही है और वो उस हिसाब से आपको आगे बढाती चली जाएगी, भले ही कितना दर्द सहना पड़े, भले ही कितनी मेहनत करनी पड़े, वो आपको हार नहीं मानने देगी। अपने दिल की आवाज़ को सुनते जाओ और अपने कदम आगे बढ़ाते जाओ और जैसे सुनसान अँधेरे रास्ते पे एक गाड़ी अपने हेडलाइट की रोशनी से अँधेरे को पार करते हुए अपने मंज़िल तक पहुंच जाती है ना, वैसे ही आप भी, अपने दिल की आवाज़ के ज़रिये, अपने मज़िल तक पहुंच जाओगे।

मुझे आपके सपनो पे विश्वाश है और मुझे यकीन है आप उसको रियलिटी में जरूर बदलोगे और मुझे यकीन है आप अपने दिल की आवाज़ को ज़रूर सुनोगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.