सच्ची मेहनत तो हाथो की लकीरे तक बदल देती है

0
46

कुछ है तुझ में ऐसा, जो मुझे मुझसे मिलाता है। कुछ है तुझ में ऐसा, जो मुझे मुझपे यकीन दिलाता है।
वरना ऐसे थोड़ी न दु, मेरी चीखो को सुरीले रागो में बदलती है। कुछ है तुझमे ऐसा जो मुझे मुझ सा बनाता है।

कैसे है? क्यों है? ये सब मुझे पता नहीं।
पर तेरे होने सी ही मेरी पहचान है, इसमें मुझे कोई भी शक नहीं।
साथ है तू तो मेरे पास विश्वास है, और इस विश्वास के बल पे देखे मैंने बहुत बड़े खवाब है।
लगता है जैसे कुछ भी कर सकता हु, दिल से जो भी चाहुँ वो रच सकता हूँ।
ये कैसी ताक़त है तेरे साथ में, जो मुझे इतना बेख़ौफ़ बनाती है।
पर होगी भी कैसे नहीं, तेरा साथ, इतना जो निस्वार्थ है।
हमेशा साथ रहने के वादे तो कई ने किये थे, पर जब भी मैँ हारा हु, ख्वाबो की दौड़ में बुरी तरह से गिरा हूँ।
हमेशा साथ मेरे “कोई बात नहीं, मै हु न” ये कहने वाली मैंने सिर्फ तुझे पाया है।

तेरे निस्वार्थ साथ ने मुझे बहुत सताया है, देर रात तक मेरे साथ जागकर, साथ हर सुबह जल्दी उठ कर , तूने ही तो मुझे निखारा है, मुझे सवारा है।
पर्वत से ऊंचे मेरे ये जो ख्वाब है,उनको हासिल करने के लिए भरी जो मैंने उड़ान है।
शायद इस लायक नहीं था मैं, तेरे इस प्यार ने, सारी इन वफाओ ने मुझे उस काबिल बनाया है।
कमाल की आशिक़ है तू, तेरा इश्क़ लाजवाब है। की मेरी हर मुश्किलों का सिर्फ तू एक ही जवाब है।
जिस तरह से मुझे चाहती है, मेरे रूह से घुल जाती है।
मेरे दिल को जकड़ के समय को मोड़ मड़ोड़ के, एक लम्बा सा, ठहराव लाती है।
सुकून से भरा हुआ, इश्क़ की खूबसूरती से उभरा हुआ, तेरा साथ…

लाख चाहने के बावजूद भी, मै खुदको रोक नहीं पाता।
अपने सपनो से सगाई तोड़ के, तेरे प्यार में पड़ने से, मै खुदको बचा नहीं पाता।
मेरी “सपनो की मल्लिका मेरे खवाब थे” तेरे प्यार ने करवा दिया मेरी उनसे बेवफाई।
उन गोल्स और अचीवमेंट की मंज़िलो को छोड़कर, मकसद के अपार गहरे समंदर में, मेरी सोच तूने डुबाई है।
कभी कभी, कुछ पल के लिए जब हम होते है। पाने के लिए कोई सपना बच नहीं जाता।
सब कुछ मिल जाए, या कुछ भी ना रहे, कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता।
“क्या टैलेंट है तुम्हारे पास?” ये सुनकर मै सहम जाता हु।
मेरे साथ सहारा बन तुझे खड़ा देख, मै फिरसे सम्भल जाता हु।
क्युकी तेरे लिए जितना भी किया है, उस से कही ज्यादा ब्याज सहित तूने लौटाया है।

ए मेहनत, ए मेहनत शुक्रिया
शुक्रिया, मेरे सच्चा साथ देने के लिए।

हरदम तेरे द्वारा, कर्म के इस चक्र को पूरा करने के लिए।
निष्पछ रहके, मेरे ईमानदार कोशिशों को इंसाफ देने के लिए।
नाकामयाबी की अँधेरे कोने से, मुझे विश्वास की रोशिनी देके।
इस फरेबी मतलबी दुनिया में मेरे चीखो का संगीत बनाके, मुझे न्याय देने के लिए।

ज़िन्दगी में कुछ भी करना चाहते हो, कोई एंट्रेंस क्रैक करना हो या फिर इतिहास ही क्यों न रचना हो।
सच्चाई की ताक़त को नशो में घोल दो, और पूरी ईमानदारी से, बस तुम मेहनत करो।
सक्सेस के रास्ते में जब तुमसे कोई टैलेंट का पर्चा मांगे, तो तू डर मत, उनको बिना कोई जवाब दिए।
बस तू भरोसा रख, ध्यान को काम पे एकाग्रित कर और पूरे दिल से, सिर्फ और सिर्फ, तू मेहनत कर।

मेहनत

जब MLM (मल्टी लेवल मार्केटिंग) से आयी कमाई, दिल को कुछ खास राज ना आये।
सक्सेस के शॉर्टकट्स बहुत लम्बे पड़ जाये, “Get Rich Quick” स्कीम्स तुम्हारा सब कुछ लुटा ले जाये।
तो लालच को छोड़कर, बस तू मेहनत कर।
स्मार्ट वर्क के नाम पे, किसी के आइडियाज चुराके।
सक्सेस strategies को फॉलो करके, सक्सेस्फुल बनने के बाद भी, जब वो सक्सेस कीमती ना लगे ना।
तो मेरे दोस्त, बस तू मेहनत कर। क्युकी एक सम्बन्ध है जो मेहनत तुझसे बनाएगी।
अरे पसीना बहाओगे ही नहीं, तो तुम्हारी सक्सेस में सुगंध कहा से आएगी।

ये भी पढ़े,

अबे हीरा है तू, पर अगर तूने खुदको घिसा ही नहीं, पत्थर बनके बस ज़िन्दगी भर पड़ा रहा, तो तुझमे चमक कहा से आएगी?
बहुत काम लोग ही ये समझ पाते है, की कामयाबी सही अर्थ में संघर्ष है,मेहनत है, तो बस तू मेहनत कर।
पहाड़ का ऊंचा सिखर तो महज एक मिथ्या है, जिसको चढ़ाई से इश्क़ है ज़िन्दगी तो वही जित ता है।
मेहनत सत्य है, मेहनत नित्य है।
तो अगर ज़िन्दगी में कुछ भी करना है न, तो पूरी ईमानदारी से, सही दिशा में, खुले दिमाग से, बस तू मेहनत कर… बस तू मेहनत कर।

मुझे आपके सपनो पे विश्वास है और मुझे यकीन है, की उनको रियलिटी में बदलने के लिए आप पूरे दिलसे मेहनत करोगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.